वर्नियर कैलिपर क्या है ? कार्य और प्रकार

हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का एक और नयी पोस्ट में आज हम जानेंगे वर्नियर कैलिपर क्या होता है । कैसे कार्य करता है । और कितने प्रकार के होते हैं तो जानते हैं । वर्नियर कैलिपर के बारे में

वर्नियर कैलिपर

 

वर्नियर कैलिपर क्या है

 

वर्नियर कैलिपर एक मापक इंस्ट्रूमेंट है । जिसका प्रयोग छोटी से छोटी वस्तुओं को मापने के लिए किया जाता है । इसके द्वारा किसी जॉब को 1/1000 तक की शुद्धता से मापा जा सकता है ।

ये दो स्केलों की नाप के बीच अंतर आधार पर नाप लेता है ।  औद्योगिक क्षेत्रों में वर्नियर कैलिपर का अधिक प्रयोग किया जाता है । इसी आधार पर कार्य करने वाले वर्नियर हाइट गेज तथा वर्नियर डेप्थ गेज भी आते हैं

रेडियेटर क्या है ? और कैसे कार्य करता है । प्रकार

Vernier caliper  का अविष्कार किसने किया थ

वर्नियर कैलिपर का आविष्कार फ्रांस के एक वैज्ञानिक पैरी वर्नियर ने दो स्केलों को जोड़कर एक स्केल बनाया था । जिसका नाम था वर्नियर कैलिपर पैरी वर्नियर ने 0.1mm,  0.5,mm , 0.2mm के मीट्रिक सिस्टम में वर्नियर कैलिपर बनाया

 

वर्नियर कैलिपर किस धातु का बना होता है

वर्नियर कैलिपर को वेनेडियम स्टील या निकिल क्रोमियम स्टील जैसे उच्च कोटि के स्टील द्वारा बनाया जाता है । ये काफी मजबूत होता है

 

वर्नियर कैलिपर के मुख्य भाग

वर्नियर कैलिपर में निम्नलिखित मुख्य भाग होते हैं

  • मेन स्केल
  • वर्नियर स्केल
  • फाइन एडजस्टमेंट
  • यूनिट
  • डेफ्थ मेजरिंग स्ट्रिप

एयरबैग क्या होता है ?or कैसे कार्य करता है जाने हिंदी में

1 . मुख्य स्केल – इस भाग पर मुख्य अंक रहते हैं । इसके ऊपर एक और इस पर वर्नियर स्केल लगी होती है ।  मेन स्केल पर एक फिक्स जॉ होता है । और measuring  tips भी होती है । वर्नियर कैलिपर में क्लैंपिंग स्क्रू लगा होता है । इसे एडजस्टिंग स्क्रू भी कहाँ जाता है । ये वर्नियर स्केल को मेन स्केल पर खिसकाकर लॉक करने का कार्य भी करता है । जितनी भी रीडिंग चाहिए होती है । वर्नियर स्केल को इसके लॉक किया जाता है

वर्नियर स्केल – वर्नियर स्केल मेन स्केल से जुड़ा होता है । जिस पर छोटी छोटी माप दी होती है । वर्नियर स्केल के खाने 10 खानो में बंटे हुए होते हैं ।वर्नियर स्केल में एक मूविंग जॉ लगा होता है । और एक मूविंग टिप्स भी जुडी रहती है

वर्नियर कैलिपर कैसे काम करता है

वर्नियर कैलिपर में दो जबड़े लगे होते हैं । उससे एक्सटर्नल डायामीटर मापते हैं । और जो measuring tips लगी होती है । उनसे इंटरनल डायामीटर मापते हैं । वर्नियर कैलिपर के एक सिरे पर एक स्ट्रिप लगी होती है । जिससे गहराई मापी जाती है । ये मूविंग जॉ के साथ ही मूव करती है

वर्नियर कैलिपर कितने प्रकार के होते हैं

वर्नियर कैलिपर निम्नलिखित प्रकार के होते हैं

1 . स्टैंडर्ड वर्नियर कैलिपर – इस प्रकार के कैलिपर के द्वारा किसी कॉम्पोनेन्ट की आउट साइड, इनसाइड , और डेप्थ की माप कर सकते है

2 . डेप्थ वर्नियर कैलिपर – इस प्रकार के कैलिपर द्वारा किसी कॉम्पोनेन्ट की डेप्थ यानी गहराई को माप जाता है

3 . डिजिटल वर्नियर कैलिपर – इस प्रकार कैलिपर में एक डिजिटल मीटर का प्रयोग किया जाता है । वर्तमान समय में इसका अधिक प्रयोग किया जाता है

4 . डायल वर्नियर कैलिपर – इस प्रकार के कैलिपर में एक डायल गेज का प्रयोग किया जाता है । ये भी बनावट में और स्टैंडर्ड वर्नियर कैलिपर के सामान होती है

5 . गियर टूथ वर्नियर कैलिपर – इस प्रकार के कैलिपर का प्रयोग गियर को मापने के लिए किया जाता है । 

 

अभी आपने जाना वर्नियर कैलिपर के बारे में आपको ये पोस्ट आपको कैसी लगी अपने सुझाव हमें कमेंट बॉक्स में भेजें और इस पोस्ट को औरों के साथ भी साझा करें ओर हमें FACEBOOK और INSTAGRAM पर जरूर फॉलो करें 

धन्यवाद 

Please follow and like us:

Leave a Comment

Your email address will not be published.