लेथ मशीन क्या है । और कैसे कार्य करती है

हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का एक और नयी पोस्ट में आज हम जानेंगे कि लेथ मशीन क्या है । और ये कैसे करती है । तो चलिए जानते हैं लेथ मशीन के बारे में 

लेथ मशीन

लेथ मशीन क्या है

लेथ मशीन एक ऐसा यन्त्र या उपकरण है । जिसका उपयोग एक वर्कपीस को घुमाने में किया जाता है । इसे टर्निंग मशीन के नाम से की जाती है । और खराद मशीन के नाम से भी जाना जाता है ।

इसको विभिन्न ऑपरेशन में प्रयोग किया जाता है । जैसे टर्निंग , थ्रेडिंग , फेसिंग , और अन्य कई कार्यों में इसका उपयोग किया जाता है ।इस प्रक्रिया के लिए इसमें टूल्स का प्रयोग किया जाता है । और टूल्स को घूमते हुए वर्कपीस के विरुद्ध चलाकर उपयोग किया जाता है और ये 

 

Lathe मशीन क्या काम करती है

लेथ मशीन का मुख्य कार्य होता है । किसी वर्कपीस से धातु को निकालना जिससे उसे एक वांछित आकार में ढाला जा सके क्यूंकि लेथ मशीन वर्कपीस टूल के विरुद्ध घूमती है ।

जिससे टूल का प्रयोग वर्कपीस के धातु हटाने को किया जाता है । यदि किसी मेट्रियल पर कुछ कार्य करना है । या उसमें कुछ बदलाव करना है । तो उस मेटेरियल को चक जो कि लेथ पर लगा होता है ।

उसमें लगाकर और फिर एक कटिंग टूल की सहायता से मेटेरियल पर आवश्यकता अनुसार कार्य किया जा सकता है । लेथ मशीन बहुत सारे ऑपरेशन में किया जाता है । जिसमें से कुछ निम्नलिखित हैं 

एयरबैग क्या होता है ?or कैसे कार्य करता है जाने हिंदी में

 

लेथ मशीन से होने वाले ऑपरेशन

  • Boring 
  • grooving 
  • turning 
  • Driling
  • Counter Turning 
  • Taper turning 
  • Knurling
  • facing 

आदि कई ऑपरेशन लेथ मशीन के द्वारा किये जाते हैं 

लेथ मशीन के पार्ट्स

एक लेथ मशीन में निम्नलिखित पार्ट्स होते हैं 

1 . हैड स्टॉक – ये मशीन के ऊपरी भाग में स्तिथ होता है । जिसमे स्पिण्डल गियर ट्रैन और चक लगा होता है । गियर ट्रैन के माध्यम से गति में परिवर्तन और गति को नियंत्रित किया जाता है ।

इसके लिए इसमें लीवर लगे होते हैं । वहीँ इसके बगल में एक क्लच का प्रयोग किया जाता है । जो कि स्पिण्डल के इंगेज और डिसइंगेज करता है । साथ ही इसमें चक का प्रयोग किया जाता है । 

 

चक – वर्किंग पीस को इसी पर कैसा जाता है । ये स्पिण्डल के साथ मूव होता है । यह स्पिण्डल के साथ लगा होता है । ये दो प्रकार के होते हैं । 

          थ्री जॉ चक और फोर जॉ चक 

बेड- मशीन के अधिकतर भाग इसी पर बोल्ट के माध्यम से कैसे होते हैं । ये एक मुख्य भाग है । इसे मशीन का बेस भी कहा जाता है । इसके ऊपरी भाग पर guide  way भी लगा होता है । ये tailstock  और carriage को गाइड करता है 

टेलस्टॉक – ये बाएं मशीन के ऊपरी भाग में बाएं तरफ स्तिथ होता है । इसका कार्य होता है । वर्कपीस के एक तरफ के भाग को सपोर्ट करना इस पर एक रॉड लगी होती है 

 

कैरिज – इसमें tool post  , Apron ,  Compound Rest , Cross  Slide , और suddle लगे होते हैं 

क्रॉस स्लाइड – इसकी सहायता से Carriage को स्लाइड किया जाता है 

सेडल – इसके ऊपर क्रॉस स्लाइड जुडी होती है 

एप्रन – जो मूविंग पार्ट्स होते हैं उन्हें Apron से कवर किया जाता है । इससे पार्ट्स दिखाई नहीं देते हैं । इनके अतरिक्त इसमें हार्ड रॉड और फीड रोड और लीड स्क्रू का प्रयोग भी किया जाता है 

टूल पोस्ट – इसका कार्य होता है । टूल को फिट करना इसमें एक टी स्लॉट होता है । जिसकी सहायता से टूल को कैसा जाता है ।

लेग्स – ये मुख्य भाग होता है । मशीन का पूरा भार लैग्स पर होता है । मशीन ऑपरेशन के लेग्स को नट द्वारा फर्श पर फिक्स किया जाता है ।  

कंपाउंड रेस्ट – इसकी सहायता से जो टूल प्रयोग किया जा रहा है । उसे किसी भी कोण पर सेट कर सकते हैं 

अभी आपने जाना लेथ मशीन क्या है । और कैसे कार्य करती है । आपको या पोस्ट कैसी लगी अपने सुझाव हमें कमेंट बॉक्स मैं भेजें और इस पोस्ट को औरों के साथ भी साझा करें तथा हमें FACEBOOK और INSTAGRAM पर जरूर फॉलो करें 

धन्यवाद 

Please follow and like us:

Leave a Comment

Your email address will not be published.