डायनेमो क्या है ? कार्य और कितने प्रकार के होते हैं

 

 

 

डायनेमो

हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का एक और नयी पोस्ट में इस पोस्ट में हम जानेंगे कि एक मोटर गाडी में डायनेमो क्या होता है । किस प्रकार से कार्य करता है । हम आगे विस्तार से जानेंगे कि डायनेमो किस प्रकार से वर्क करता है । तो चलिए देर न करते हुए जानते हैं डायनेमो के बारे में सम्पूर्ण जानकारी 

डायनेमो क्या है ?

डायनेमो का प्रयोग गाड़ियों में किया जाता है । आप सभी को पता ही है । कि गाड़ियों में बैटरी का प्रयोग किया जाता है । उस बैटरी को चार्ज करने के लिए डायनेमो का प्रयोग किया जाता है ।

डयनमो इंजन के माध्यम से मकेनिकल ऊर्जा से घूमकर विद्युत शक्ति जेनेरेट करता है । डायनेमो विद्युत जेनेरेट करता है । इसी कारण इसे जनरेटर भी जाता है ।

 

 

डयनमो का क्या कार्य है ?

जब भी इंजन चलता है । तो उस समय डायनेमो की ड्राइविंग पुल्ली V बैल्ट की सहायता से क्रैंक शाफ़्ट के माध्यम से घूमने लगती है । और ये पुल्ली आर्मेचर शाफ़्ट पर अच्छे से कसी हुई रहती है ।

इससे आर्मेचर दोनों पोल शू के बीच घूमने लगती है । और इन पोल शू में कुछ मात्रा में चुम्बक रहता है । ये रेजीडुअल मैगनेट के नाम से भी जाना जाता है । आर्मेचर के घूमने से पोल शू में उत्पन्न चुंबकीय बल रेखाएं कटती है

जिससे कंप्यूटेटर के सिग्मेंट द्वारा कार्बन बुश तक विद्युत जेनेरेट होकर सप्लाई होने लगती है । कार्बन बुश का सम्बन्ध बैटरी से जुड़े रहने के अलावा पोल शू पर फिट फील्ड कोइल से भी किया जाता है ।

डायनेमो की विद्युत शक्ति से ही फील्ड कोइल अधिक शक्तिशाली चुंबकीय बल रेखाएं उत्पन्न करती है । जो कि आर्मेचर के घूमने से कट जाती है ।

अल्टरनेटर क्या होता है ? कैसे कार्य करता है । कितने प्रकार

 

डायनेमो किस सिद्धांत पर कार्य करता है ?

आप सभी अच्छे से जानते हैं । में दो ध्रुव होते हैं । दक्षणी ध्रुव और उत्तरी ध्रुव और उत्तरी ध्रुव से चुम्बकीय बल रेखाएं निकलती हैं डयनमो फेराडेज इलेक्ट्रो मैग्नेटिक इंडक्शन नियम के आधार पर कार्य करता है ।

और इस नियम के अनुसार चुम्बकीय रेखओं के बीच कोई चालाक घुमाया जाता है । तो चालाक में इलेक्ट्रिसिटी उत्पन्न होती है । तथा चालक के घूमने से चुंबकीय बल किरणे कट जाती है ।

तथा इनका प्रवाह जुड़ता और रुकता है । इसके सिरे पर ताम्बे के सिग्मेंट लगे होते हैं । और इनपर दो कार्बन बुश लगे होते हैं ।

 

 

डायनेमो की बनावट कैसी होती है

चलिए अब जानते हैं कि एक डायनेमो की बनावट किस प्रकार की होती है । और इसमें कौन कौन चीजें प्रयोग की जाती है । तो आपको बता दें कि एक  डायनेमो की बनावट गोलाकार होती है ।

और इसके दोनों ओर के साइड प्लेटों के माध्यम से बंद रहता है । ओर दो पोल स्क्रू के माध्यम से बॉडी पर कैसे रहते हैं । जिन पर फील्ड कोइल को लगाया जाता है । ओर साथ ही कार्बन बुश फिट करने के लिए बुश होल्डर लगाए जाते हैं ।

ओर इसके दूसरी तरफ ड्राइविंग पुल्ली फिट होती है । साइड प्लेटों के बीच में बुश तथा बियरिंग को लगाने के लिए जगह बना रहता है । इसके साथ ही इसमें एक आर्मेचर का प्रयोग किया जाता है ।

ये आर्मेचर डायनेमो बॉडी में पोल शू  ओर फील्ड कोइल के बीच घूमता है । तथा को लेमिनेटेड कोर जो कि पतली लोहे की पत्तियां होती है । उनको एक शाफ़्ट पर फिट करके बनाया जाता है ।

तथा इस पर ताम्बे के तार की वाइंडिंग लगी रहती है । ओर इस वाइंडिंग के कोइल का सम्बन्ध आर्मेचर लगे कंप्यूटेटर के सेग्मेंटों से रहता है । कार्बन बुश इस प्रकार स्प्रिंग की सहायता से फिट रहते हैं ।

  कंप्यूटेटर सेगमेंट से लगे रहते हैं । ओर कार्बन के माध्यम से डायनेमो द्वारा उत्पादित विद्युत शक्ति के स्थान तक प्रवाहित की जाती है ।

वर्नियर कैलिपर क्या है ? कार्य और प्रकार

 

डायनेमो के मुख्य भाग

चलिए जानते हैं कि एक डायनेमो में किन किन भागों का प्रयोग किया जाता है । हम यहाँ कुछ भागों की व्याख्या कर रहे हैं जो निम्नलिखित हैं –

  • डायनेमो बॉडी
  • कंप्यूटेटर
  • बियरिंग तथा बुश
  • साइड प्लेट
  • डायनेमो ड्राइविंग पुल्ली
  • पोल शू
  • आर्मेचर
  • थ्रू बोल्ट

 

डायनेमो में आने वाली खराबियां और उनके समाधान

डायनेमो एक इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम के रूप में कार्य करता इंजन को शुरू करने के साथ ही ये बैटरी भी चार्ज करता रहता है । निरंतर चलते रहने के कारण इसमें समय समय पर कुछ खराबियां आती रहती हैं ।

जिनको ठीक करना आवयश्यक हो जाता है । ऐसे ही कुछ खराबियों के बारे मैं हम चर्चा करने वाले हैं जो निम्नलिखित हैं –

 

डायनेमो बैटरी कम चार्ज कर रहा है

  • डायनेमो की पुल्ली शाफ़्ट ढीली हो गयी है                               PULLI पुल्ली की सही से जांच करें और जरूरत पड़ने पर बदल दें
  • डायनेमो के कंप्यूटेटर से आर्मेचर कनेक्शन टूट गया है              कंप्यूटेटर की सही से जांच करके साफ़ करें और आर्मेचर को सही से कनेक्ट करें
  • कार्बन बुश ख़राब हो गए                                                        कार्बन बुश की सही से जांच करें और समस्या को दूर करें
  • रेगुलेटर की बैटरी यूनिट के पॉइंट मिल नहीं प् रहे                    रेगुलेटर की जांच करें और समस्या दूर करें
  • फील्ड कोइल टूट गयी है                                                        फील्ड कोइल की सही से जांच करें और समस्या को ठीक करें

 

 

डायनेमो बैटरी को कम चार्ज करता है

  • डायनेमो टर्मिनल के नट ढीले हो गए हैं                                    नट सही प्रकार से लगाएं
  • आर्मेचर शाफ़्ट ढीली हो गयी है                                                आर्मेचर शाफ़्ट की जांच करें और जरूरत होने पर नयी शाफ़्ट बदल दें
  • रेगुलेटर के पॉइंट साफ़ नहीं हैं                                                  रेगुलेटर के पॉइंट को सही से साफ़ करें
  • बैटरी एलेक्ट्रॉइट की सतह नीचे हो गयी है                                  बैटरी की सही से जांच करें डिस्टिल्ड वाटर डालें
  • डायनेमो बियरिंग या बुश ख़राब हो गए हैं                                    बियरिंग बियरिंग अथवा बुश बदलें

 

 

अभी आपने जाना कि डायनेमो क्या है । और ये किस प्रकार कार्य करता है । इस पोस्ट में हमने डायनेमो के बारे में विस्तार से जानने की कोशिश की है  आपको ये पोस्ट कैसी लगी अपने सुझाव हमें कमेंट बॉक्स में भेजें । और इस पोस्ट को औरों के साथ भी साझा करें और हमें

FACEBOOK और INSTAGRAM पर जरूर फॉलो करें 

धन्यवाद 

 

Please follow and like us:

Leave a Comment

Your email address will not be published.