एयर ब्रेक क्या होते है । और इनकी कार्यप्रणाली

एयर ब्रेकदोस्तों स्वागत आप सभी का एक और नयी पोस्ट में आज हम जानेंगे एयर ब्रेक क्या होते है । और ये किस प्रकार काम करते हैं । तो चलिए बिना देरी किये जानते हैं एयर ब्रेक के बारे में

एयर ब्रेक क्या है

क्या आप जानते हैं ब्रैकिगं सिस्टम गाडी का मुख्य भाग होता है । और एक गाडी में अच्छे ब्रेक होने बहुत ही आवश्यक होते हैं । ऑटोमोबाइल में अनेक प्रकार के ब्रेकों का प्रयोग किया जाता है । जिसमें से एक है एयर ब्रेक । इस सिस्टम में साफ़ हवा के दबाव का प्रयोग ब्रेक लगाने में किया जाता है ।

इसमें ब्रेक काफी जल्दी और अच्छे से लगते हैं तथा चालक को ब्रेक पैडल दबाने के लिए काम शक्ति का प्रयोग करना पड़ता है । चलिए अब जानते हैं एयर ब्रेक के  मुख्य भागों के बारे में

 मुख्य भाग

  1. एयर कम्प्रेशर 
  2. एयर क्लीनर 
  3. ब्रेक चैम्बर 
  4. रिजर्वायर 
  5. सेफ्टी वाल्व 
  6. प्रेशर गेज 
  7. फ्लैक्सिबल रबर होज पाइप 
  8. ब्रेक वाल्व 
  9. रिले वाल्व 
  10. स्टॉप लाइट स्विच 
  11. गवर्नर 

एयर ब्रेक कैसे काम करता है ?

चलिए जानते हैं कि ABS कैसे काम करता है  जब भी इंजन शुरू होता है । तो तब एयर कम्प्रेशर के द्वारा रिजर्वायर में दबी हुई हवा भर जाती है । जब भी ड्राइवर को ब्रेक अप्लाई करना होता है ।

तो ब्रेक वाल्व को दबाना पड़ता है । जो कि ब्रेक पैडल की जगह पर ही लगा रहता है । ब्रेक अप्लाई करने पर जब ब्रेक वाल्व दबता है । तो रिजर्वायर में भरी हुई हवा रिले वाल्व के माध्यम से चारों ब्रेक चैंबरों में जाकर ब्रेक शू को फैला देती है ।

जिससे ब्रेक ड्रम ब्रेक शू के द्वारा जाम हो जाते हैं । और गाडी रूक जाती है । 

और जब ड्राइवर ब्रेक वाल्व से पैर को हटा देता है । तो हवा रिलीज़ वाल्व से निकल जाती है । तथा हवा का दबाव समाप्त हो जाता है । तथा ब्रेक शू रिटर्न स्प्रिंग के माध्यम से वापस उसी स्थान पर आ जाते हैं ।

इस प्रकार से गाडी के पहियों से ब्रेक रिलीज़ हो जाते हैं । और गाडी वापस से चलने के लिए तैयार रहती है । 

एयर ब्रेक सिस्टम में जो हवा प्रयोग की जाती है । उस हवा का उपयोग और कई स्थानों पर भी किया जाता है । जैसे गाडी के वाइपर चलाने के लिए तथा गाडी के हॉर्न में भी इसका प्रयोग किया जाता है ।

और साथ में कई बार पहियों में हवा भरने के लिए भी इसका प्रयोग किया जाता है । इस प्रकार के सिस्टम में कम्प्रेशर में लुब्रिकेशन के आवयश्यकता रहती है ।

कम्प्रेशर को इंजन की मैन गेलरी  से जोड़ा जाता है । साथ ही कुछ कम्प्रेशरों मैन वाटर कूलिंग सिस्टम का भी अधिकतर प्रयोग किया जाता है । जिसमे रेडियेटर से वाटर आता है ।

और ठंडा करके वापस इंजन के वाटर के इनलेट मैन चले जाता है । साथ ही एयर ब्रेक सिस्टम मैन मेंटिनेंस का खर्च भी बहुत कम आता है ।

 ABS क्या है और कैसे कार्य करता है

एयर ब्रेक सिस्टम की बनावट कैसी होती है ?

 

इस प्रकार के ब्रैकिंग सिस्टम मैन एक एयर कम्प्रेशर का उपयोग किया जाता है । जो कि इंजन की सहायता से एक गियर के जरिये चलता है । ये कम्प्रेशर एयर क्लीनर के द्वारा शुद्ध हवा को खींचकर उसे दबाता है ।

और जिस मार्ग से हवा जाती है । उस पर एक गवर्नर और एक प्रेशर गेज का प्रयोग किया जाता है । गवर्नर के माध्यम से ब्रेक सिस्टम मैन प्रवेश करने वाली हवा को आटोमेटिक कंट्रोल किया जाता है ।

तथा जो प्रेशर गेज उपयोग किया जाता है । वो गाडी के डैश बोर्ड पर लगा होता है । ये प्रेशर गेज ब्रेक सिस्टम मैन जाने वाली हवा के दबाव को दर्शाता है । गवर्नर के द्वारा जो हवा कंट्रोल की जाती है ।

और दबी हुई हवा गाडी के दोनों और लगे दो अलग रिजर्वेरों में आ जाती है । साथ ही इन रिजर्वेरों मैन दो सेफ्टी वाल्व का प्रयोग भी किया जाता है । जब रिजर्वायर मैन हवा का दबाव अधिक हो जाता है ।

तो ये वाल्व खुल जाते हैं । और रिजर्वायर में हवा का दबाव स्थिर बना रहता है । रिजर्वेरों को स्टील पाइप और फ्लेक्सिबल रबर होज पाइप के द्वारा ब्रेक चेम्बर से जोड़ा जाता है ।

और साथ ही चारों चैंबरों को दबी हुई हवा को के लिए रिले वाल्व का प्रयोग भी किया जाता है । और रिजर्वायर तथा ब्रेक चेम्बर लाइन के बीच ही ब्रेक लगाने के लिए ब्रेक वाल्व लगा होता है 

एयर ब्रेक के कुछ दोष तथा निवारण

एयर कम्प्रेशर से अधिक आवाज आती है – इस प्रकार के दोष के कुछ कारण हो सकते हैं 

ड्राइविंग पुल्ली ढीली हो गयी है – पुल्ली को चेक करके उसे ठीक करें 

कम्प्रेशर बियरिंग ख़राब हो गयी है – बियरिंग को चेक करें और जरूरत के अनुसार बदल दें 

ड्राइविंग गियरों में अधिक अंतर है – गियर की जांच करें और गियर को सही से एडजस्ट करें 

ब्रेक सिस्टम क्या है कैसे कार्य करता है और इसके प्रकार

ब्रेक लगे रहते हैं – इस प्रकार की समस्या के निम्नलिखित कारण हो सकते हैं 

ब्रेक शू का एडजस्टमेंट ख़राब है – ब्रेक शू की जांच करें और सही से एडजस्टमेंट करें 

ब्रेक वाल्व ख़राब हो गए हैं – ब्रेक वाल्व की जांच करें और और इसे सही करें और अगर ख़राब हैं तो बदल दें 

क्विक रिलीज वाल्व ख़राब हो गए हैं – वाल्व की जांच करें और बदल दें 

ब्रेक लाइनिंग चिपकी हुई है – ब्रेक लाइनिंग और ब्रेक ड्रम साफ़ करें 

ब्रेक ड्रम गोलाई के नहीं हैं – ब्रेक ड्रम की जांच करें और ड्रम बदल दें 

 

ब्रेक सही से नहीं लगते हैं – इस प्रकार की समस्या के निम्नलिखित कारण हो सकते हैं 

ब्रेक ड्रम टेढ़े हो गए हैं – ब्रेक ड्रम की जांच करें और ड्रम को बदली करें 

ब्रेक लाइनिंग घिस गयी है – ब्रेक लाइनिंग की जांच करें और जरूरत पड़ने पर बदल दें 

हवा का दबाव कम है – हवा के स्तर को जांच लें और पाइप लाइन को भी जांच लें 

 

अभी आपने जाना कि एयर ब्रेक क्या होते हैं और कैसे कार्य करते हैं । आपको ये पोस्ट कैसी  लगी अपने सुझाव हमें कमेंट बॉक्स में भेजें और इस पोस्ट को औरों के साथ साझा करें और हमें FACEBOOK और INSTAGRAM पर जरूर फॉलो करें 

धन्यवाद 

 

Please follow and like us: