अल्टरनेटर क्या होता है ? कैसे कार्य करता है । कितने प्रकार

 अल्टरनेटर

हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का एक और नयी पोस्ट में । आज हम जानेंगे कि ALTERNATOR क्या होता है । और ये किस प्रकार से कार्य करता है । और कितने प्रकार के होते हैं । तो चलिए देर न करते हुए जानते हैं विस्तार से अल्टरनेटर के बारे में । 

 

अल्टरनेटर क्या होता है ?

आप सभी को पता होगा के वर्तमान समय में अल्टरनेटर का प्रयोग अधिक बढ़ता जा रहा है । इससे पहले गाड़ियों में डायनेमो का प्रयोग किया जाता था । पर आज के दौर में गाड़ियों की बढ़ती संख्या के कारण ट्रैफिक में भी बढ़ावा हो रहा है ।

जिसके चलते एक गाडी को अधिक गति से नहीं चलाया जा सकता है । एक अल्टरनेटर जो A.C जनरेटर होता है । ये D.C करंट की जगह A.C करंट को बनाता है ।

और इस करंट को फिर से D.C में परिवर्तित करके बैटरी चार्ज करता है । एक ऑटोमोबाइल में इंजन की आइडियल स्पीड पर भी उचित मात्रा में बिजली का उत्पादन करता है ।

इसका भार कम होता है । इसके प्रयोग से कट आउट यूनिट की आवयश्कयता नहीं होती है । और ये कीमत में भी सस्ता होता है ।

माइक्रोमीटर क्या है ? कार्य और प्रकार

 

ALTERNATOR  किस सिद्धांत पर कार्य करता है ?

एक अल्टरनेटर में आर्मेचर मैगनेट होता है । जिसके ऊपर ताम्बे के इन्सुलेटेड तार के लेयर लिपटे रहते हैं । और ऊपर की और चुम्बक का उत्तरी ध्रुव तथा नीचे की ओर दक्षणी ध्रुव होता है ।

जब भी आर्मेचर मैगनेट को घुमाया जाता है । तो इसके आधे चक्कर में तारों में विधुत शक्ति उत्पन्न होती है । जिसकी दिशा एक ओर होती है । इसके बाद चुंबकीय ध्रुवों की स्थिति बदल कार विपरीत हो जाती है ।

आर्मेचर मैगनेट की आगे की आधी चाल में दूसरी दिशा में करंट प्रवाहित होता है । इसी कारण ही इसे अल्टेरनेटिव करंट कहते हैं 

 

 

अल्टरनेटर की बनावट कैसी होती है ?

अल्टरनेटर में  बियरिंगो की सहायता से एक रोटर को स्टेटर में फिट किया जाता है । ओर ये रोटर क्रैंक शाफ़्ट ड्राइविंग पुल्ली के माध्यम से V बेल्ट की सहायता से घूमता है ।

रोटर पर ताम्बे को इन्सुलेटेड तार की वाइंडिंग कोइल के रूप में होती है । जो कि एक अलग स्लिप रिंग से जुड़े होते हैं । ओर बैटरी का करंट दो कार्बन बुशों की सहायता से इस रोटर के क्वायलों को पहुंचाता है ।

तो आर्मेचर में विधुत चुम्बक उत्पन्न होता है । जिसके कारण इसमें उत्तरी ध्रुव ओर दक्षणी ध्रुव बन जाते हैं । ताम्बे की इन्सुलेटेड तार की वाइंडिंग स्टेटर पर भी कोइल के रूप में रहती है ।

चुम्बक कोइल जब भी प्रत्येक स्टेटर के सामने से घूमते हैं उसमें विधुत बनने लगती है । ये विधुत पावर एक में होती है । हर एक अल्टरनेटर में छह डायोड का प्रयोग किया जाता है ओर तीन वाइंडिंग लगी होती है । जिसमें प्रत्येक वाइंडिंग के लिए दो डायोड लगे होते हैं । 

लेथ मशीन क्या है । और कैसे कार्य करती है

 

अल्टरनेटर के मुख्य भाग

एक अल्टरनेटर में निम्नलिखित मुख्य भाग होते हैं  

  • चुम्बक पोल
  • आर्मेचर
  • स्टेटर
  • बियरिंग
  • स्लिप रिंग
  • डायोड
  • कार्बन बुश

 

अल्टरनेटर  से सम्बंधित दोष एवं उपचार

 

अल्टरनेटर एक इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली है । और समय समय पर इसमें कुछ खराबियां आती रहती है । और उन खराबियों को सही करना आवश्यक जिससे ये अच्छे से कार्य कर सके और चलता रहे । हम अल्टरनेटर से सम्बंधित कुछ खराबियों के बारें में बात करने वाले है । जो निम्नलिखित हैं –

अल्टरनेटर में करंट नहीं बनता है 

इस प्रकार की समस्या आने के कुछ निम्नलिखित कारण हो सकते हैं 

  • एम्पियर मीटर मैं कुछ खराबी आ गयी है                                              मीटर की सही से जांच करें और खराबी ठीक करें 
  • चार्जिंग सर्किट में खराबी आ गयी है  या फ्यूज हो गया है                       चार्जिंग सर्किट की सही से जांच करें और कमी को दूर करें 
  • फैन बेल्ट ढीली हो गयी है                                                                    फैन बेल्ट की जांच करें और जरूरत पड़ने पर बदल दें 
  • रोटर वाइंडिंग ख़राब हो गयी है                                                            वाइंडिंग की सही से जांच करें और अगर जरूरत हो तो बदल दें 
  • अल्टरनेटर रेगुलेटर सही से नहीं लगा है                                               रेगुलेटर को चेक करें और सही से लगाएं 

 

बैटरी चार्ज नहीं हो रही है 

  • अल्टरनेटर की  V  बेल्ट स्लिप कर रही है या टूट गई है             बेल्ट की सही प्रकार से जांच करें और जरूरत पड़ने पर बदल दें 
  • रेक्टिफायर में कुछ खराबी आ गयी है                                       रेक्टिफायर की सही से जांच करें और दोष को दूर करें 

 

अल्टरनेटर से आवाज आ रही है 

  • डायोड और स्टेटर  ख़राब हो गए है                                    इनकी सही से जांच करें और जरूरत पड़ने पर डायोड को बदल दें  और स्टेटर की वायरिंग सही करें 
  • पुल्ली ढीली हो गयी है                                                        पुल्ली की जांच करें और पुल्ली को टाइट करें 
  • फाउंडेशन बेल्ट ढीले हो गए हैं                                           फाउंडेशन बेल्ट को जांचे और सही करें

 

अल्टरनेटर में अधिक करंट बन रहा है 

  • अल्टरनेटर रेगुलेटर अधिक रेट पर जुड़ा हुआ है                            रेगुलेटर की जांच करें और इसे सही से एडजस्ट करें 
  • रेगुलेटर के C.B पॉइंट चिपके हुए हैं                                              C.B पॉइंट की जांच करें और कमी को दूर करें 
  • रेगुलेटर में सही से अर्थ नहीं बन रहा है                                           सही से जांच करें और कमी दूर करें 

अल्टरनेटर में कम करंट बन रहा है 

  • अल्टरनेटर रेगुलेटर सही से नहीं लगा है                                          रेगुलेटर की सही से जांच करें और इसे से लगाएं 
  • डायोड ख़राब हो गए हैं                                                                    डायोड  की जांच करें और जरूरत पड़ने पर बदल दें 
  • चार्जिंग सर्किट की वायरिंग ढीली या ख़राब हो गयी है                        चार्जिंग सर्किट की जांच करें और इसे सही करें 
  • फैन बेल्ट ढीली हो गयी है                                                                  फैन बेल्ट की जांच करें और इसे सही करें 

 

रेगुलेटर क्या है 

ये प्रायः अल्टरनेटर में लगा रहता है । इसमें कांटेक्ट ब्रेकर पॉइंट के दो सेट्स  अपर तथा लोअर लगे रहते हैं । जब भी अल्टरनेटर की वोल्टेज निश्चित मात्रा में अधिक हो जाती है ।

तो इसके कॉन्टेक्ट ब्रेकर पॉइंट खुल जाते हैं । और इस कारण फील्ड सर्किट में प्रतिरोध बढ़ जाता है । और ये अतरिक्त वोल्टेज को रोक देता है । एक गाडी में मध्य गति पर लोअर पॉइंट खुलते तथा बंद होते हैं ।

और ये अल्टरनेटर के वोल्टेज को कंट्रोल करते हैं तथा ऐसे ही जब गाडी तेज रफ़्तार पर होती है उस समय अपर पॉइंट खुलते तथा बंद होते हैं । जिससे फील्ड वाइंडिंग के दोनों सिरे अर्थ होकर शार्ट हो जाते हैं । और वोल्टेज कंट्रोल में होता है 

 

इस पोस्ट में आपने जाना कि अल्टरनेटर क्या होता है । और ये किस प्रकार से कार्य  करता है । तथा इसकी बनावट कैसी होती है ।आपको ये पोस्ट कैसी लगी अपने सुझाव हमें कमेंट बॉक्स में भेजें और इस पोस्ट को औरों के साथ साझा करें और

FACEBOOK और INSTAGRAM पर जरूर फॉलो करें 

धन्यवाद 

 

 

 

Please follow and like us:

Leave a Comment

Your email address will not be published.